Home

Welcome!

user image Arvind Swaroop Kushwaha - 31 Dec 2018 at 6:40 PM -

कॉलेज में पढ़ने वाला एक लड़का अपने कॉलेज की एक लड़की पर मोहित हो जाता है.

वह लड़की के नाम एक प्रेमपत्र लिख उसे एक किताब में रख उसे देता है

जिसमें लिखता है ...

"अगर तुम मुझे चाहती हो तो कल लाल रंग की ... ड्रेस पहन कर कॉलेज में आना.

" दूसरे दिन लड़की पीले रंग की ड्रेस पहन कर कॉलेज आती है

और उसकी किताब वापस कर देती है.

लड़के का दिल टूट जाता है ....

और अब वह उदास रहने लगता है.

कालांतर में लड़की की शादी हो जाती है.

कुछ वर्षों के पश्चात् घर का कबाड़ा साफ़ करते लड़के (जो अब आदमी बन चुका था) के हाथों से वही किताब नीचे गिरती है
और उसमें से एक चिट्ठी बाहर आ टपकती है.

"तुम भी मुझे अच्छे लगते हो. घर आकर मेरे माता-पिता से मिलो. अगर उन्होंने मना भी कर दिया तो भी मैं तुम्हीं से ब्याह करुँगी.

और हाँ ....

मेरे पास लाल रंग की ड्रेस नहीं है ... इसलिए आज मैंने पीले रंग की ड्रेस पहनी है .... सॉरी .... !

यह पढ़ कर लड़का अपना माथा पीट लेता है.

शिक्षा : इससे हमें ये शिक्षा मिलती है कि साल में एक बार तो कभी कोर्स की किताब खोल ही लेनी चाहिए.
अन्यथा
....
"अब वह कहाँ है ... कैसी है ... क्या करती है ?" यही सवाल जिंदगी भर दिल में घूमते रहते हैं।