Home

Welcome!

user image Arvind Swaroop Kushwaha - 08 Dec 2018 at 1:51 PM -

आज 8 दिसम्बर 2018 को जब मैं जिला मुख्यालय श्रावस्ती से बहराइच के लिए निकला तो आगे चलकर ssb का एक जवान मिला। लम्बा, स्मार्ट, गोरा। बहराइच जाने के लिए खड़ा था। मुझको हाथ दिया तो मैंने बैठा लिया। बातचीत की शुरुआत उसने सर कहकर ... की। आगे चलकर वह मुझे भैयाजी बोलने लगा। उसने कहा कि महीने में दो दिन ( दोनो एकादशी) मैं जरूर व्रत किया करूँ।क्योंकि चाहे जितने अच्छे कर्म करो लेकिन अगर एकादशी के दिन मुह में अन्न का दाना चला गया तो सारे अच्छे कर्मों का फल नष्ट हो जाता है।

मुझे लगा कि यह जवान मेरे अहसान का बदला मुझको बेवकूफ बनाकर चुकाना चाहता है।

मैंने उसको गाड़ी से उतार दिया।