Home

Welcome!

user image Arvind Swaroop Kushwaha - 05 Jan 2019 at 7:12 AM -

जो कुछ कहूंगा, सच कहूंगा-

जाति आधारित प्रताड़ना के झूठे मुकदमे की तारीखों में जाते जाते मुझे यह समझ में आया कि सच बोलने की कसम सिर्फ tv और सिनेमा में ही खिलाई जाती है।

फिर भी यदि सच बुलवाना हो तो शराब पिलाई जानी चाहिए। ज्यादातर मुकदमे एक ही सुनवाई ... में निपट जाएंगे।