Home

Welcome!

user image Aneeeh Swaroop - 31 Oct 2018 at 4:09 PM -

खुश रहने का अजीब अंदाज़..... हर हाल में खुश !!

एक महिला की आदत थी कि वह हर रोज सोने से पहले अपनी दिन भर की खुशियों को एक काग़ज़ पर लिख लिया करती थीं।
एक रात उन्हों ने लिखा...
मैं खुश हूं कि मेरा पति पूरी रात ज़ोरदार खर्राटे लेता है क्योंकि वह ज़िंदा है और ... मेरे पास है ना...
ये भगवान का शुक्र है

मैं
खुश हूं कि मेरा बेटा सुबह सवेरे इस बात पर झगड़ा करता है कि रात भर मच्छर-खटमल सोने नहीं देते यानी वह रात घर पर गुज़रता है आवारागर्दी नहीं करता...
इस पर भी भगवान का शुक्र है

मैं
खुश हूं कि हर महीना बिजली,गैस, पेट्रोल, पानी वगैरह का अच्छा खासा टैक्स देना पड़ता है ,यानी ये सब चीजें मेरे पास , मेरे इस्तेमाल में हैं ना... अगर यह ना होती तो ज़िन्दगी कितनी मुश्किल होती...?
इस पर भी भगवान का शुक्र है

मैं
खुश हूं कि दिन ख़त्म होने तक मेरा थकान से बुरा हाल हो जाता है
यानी मेरे अंदर दिनभर सख़्त काम करने की ताक़त और हिम्मत सिर्फ भगवान ही के आशीर्वाद से है
मैं खुश हूं कि हर रोज अपने घर का झाड़ू पोछा करना पड़ता है और दरवाज़े -खिड़कियों को साफ करना पड़ता है शुक्र है मेरे पास घर तो है ना... जिनके पास छत नहीं उनका क्या हाल होता होगा...?
इस पर भी भगवान का शुक्र है

मैं
खुश हूं कि कभी कभार थोड़ी बीमार हो जाती हूँ यानी कि मैं ज़्यादा तर सेहतमंद ही रहती हूं
इस पर भी भगवान का शुक्र है

मैं
खुश हूं कि हर साल दिवाली पर उपहार देने में पर्स ख़ाली हो जाता है यानी मेरे पास चाहने वाले मेरे अज़ीज़ रिश्तेदार ,दोस्त ,अहबाब हैं जिन्हें उपहार दे सकूं...
अगर ये ना हों तो ज़िन्दगी कितनी बे रौनक हो...?
इस पर भी भगवान का शुक्र है

मैं
खुश हूं कि हर रोज अलार्म की आवाज़ पर उठ जाती हूँ यानी मुझे हर रोज़ एक नई सुबह देखना नसीब होती है...
ज़ाहिर है ये भी भगवान का ही करम है.....

जीने के इस फॉर्मूले पर अमल करते हुए अपनी भी और अपने से जुड़े !!

सभी लोगों की ज़िंदगी संतोषपूर्ण बनानी चाहिए !!

*"जिन्दगी की हर एक परेशानियों में भी खुशियों की तलाश करनी चाहिए....."*

*खुश रहने का अजीब अंदाज़..... हर हाल में खुश !!*

user image Arvind Swaroop Kushwaha

प्रेरक

Wednesday, October 31, 2018